ALL crime social current political sports other
<no title>
August 5, 2020 • BABLI JHA • current

हरिद्वार। उत्तरांचल पंजाबी महासभा युवा प्रकोष्ठ के जिलाध्यक्ष अक्षय मल्होत्रा के नेतृत्व मे कार्यकर्ताओं ने अयोध्या मे श्रीराम मंदिर निर्माण शुरू होने की खुशी मे गंगा का दुग्धाभिषेक कर मिठाई बांटी। महामंत्री कुंज भसीन ने कहा कि मंदिर निर्माण शुरू होना बहुत ही हर्ष का विषय है। 500 साल बाद यह खुशी का अवसर आया है। प्रत्येक भारतवासी इस शुभ अवसर को पर्व के रूप मे मनाकर गर्व का अनुभव कर रहा है। चेयरमैन रोहित सहगल ने कहा कि प्रत्येक हिन्दू को अपने घर में पांच दिए जरूर जलाने चाहिए। प्रभारी दीपक टंडन ने कहा कि आस्था को सच होते व साकार रूप लेते देखना बेहद ही रोमांचित करने वाला क्षण है। जिला संयोजक अक्षत कुमार, चेतन कोचर ने कहा कि रामलला की कृपा से जल्द ही कोरोना जैसी महामारी जल्द नष्ट होगी। जिला उपाध्यक्ष नरेश शर्मा, जिला संगठन मंत्री केतन सहगल ने कहा कि इस शुभ अवसर पर प्रत्येक हिंदू अपने आपको गौरवान्वित महसूस कर रहा है। इस दौरान श्री गंगा सभा के महामंत्री तन्मय वशिष्ठ भी मौजूद भी रहे।

हरिद्वार। समाजसेवी विशाल गर्ग के संयोजन में व्यापारियों ने राम मंदिर निर्माण की आधारशिला के पूजन पर हर्ष जताते हुए एक दूसरे को मिठाई खिलाकर व आतिशबाजी कर बधाई दी। इस अवसर पर समाजसेवी विशाल गर्ग ने कहा कि अयोध्या में श्रीराम लला के मंदिर निर्माण का श्रीगणेश होना भारतवासियों के लिए गौरवान्वित करने वाला क्षण है। वर्षों के बाद यह गौरव के पल आए हैं। उन्होंने कहा कि प्रत्येक भारतवासी को भगवान श्रीराम के आदर्शो को अपनाकर भारत की तरक्की में अपना योगदान देना चाहिए। देश की एकता अखण्डता ही सनातन परंपराओं को दर्शाने वाला केंद्र बिन्दु है। समाज के प्रत्येक वर्ग में खुशी का माहौल बना हुआ है। नरेश रानी गर्ग ने कहा कि भारतवासियों की मनोकामनाएं पूर्ण हुई हैं। भगवान राम जन जन के आराध्य हैं। उनके आदर्शो पर चलकर अपने जीवन को आत्मसात करना चाहिए। अशोक अग्रवाल व विक्रम सिह नाचीज ने कहा कि भारतवासी भगवान राम के मंदिर निर्माण को लेकर गौरव की अनुभूति कर रहे हैं। हर्ष जताने वालो में रामबाबू बंसल, विवेक गर्ग, नवीन चैहान, वीर गुज्जर, सचिन अरोड़ा, अमित वालिया, नवीन तेश्वर, अनुज वालिया, विश्वास सक्सेना, श्रेष्ठ, संदीप, अजय, अंकित, मुकेश, कमल, आशीष गौड़ व शेखर गुप्ता आदि शामिल रहे।