ALL crime social current political sports other
बेहतर इंसान बनाने वाले शिक्षकों का हमेशा आदर और सम्मान होना चाहिए
September 4, 2020 • BABLI JHA • other

हरिद्वार। मानव अधिकार संरक्षण समिति के राष्ट्रीय संयुक्त महामंत्री हेमंत सिंह नेगी ने बताया सभी छात्रों को निस्वार्थ भाव से एक शिक्षक ही शिक्षा प्रदान कर सकता है। शिक्षक हमारे अंदर की बुराइयों को दूर कर हमें एक बेहतर इंसान बनाते हैं। हमारे जीवन में शिक्षकों के इस योगदान के लिए हमें अपने शिक्षकों का हमेशा आदर और सम्मान करना चाहिए। उन्होने बताया टीचर्स डे के दिन भारत के दूसरे राष्ट्रपति डॉ सर्वपल्ली राधाकृष्णन का जन्म हुआ था, इसलिए इन्हें सम्मान देने के लिए ही टीचर्स डे मनाया जाता है। डॉ सर्वपल्ली राधाकृष्णन को किसी ने अपना जन्मदिन मनाने के लिए कहा था तब उन्होंने कहा था कि अगर मेरे जन्मदिन के बजाय इस दिन शिक्षक दिवस मनाया जाए तो मुझे ज्यादा खुशी होगी। राष्ट्रीय संयुक्त महामंत्री ने बताया शिक्षक हर किसी छात्र के जीवन में एक प्रेरणा का स्रोत होते हैं। शिक्षक अपना पूरा जीवन अपने विद्यार्थियों को एक महान व्यक्ति बनाने में लगा देते हैं। एक छात्र अपने जीवन में जो भी सफलता पाता है उसका सर्वप्रथम श्रेय उसके अध्यापकों को जाता है। शिक्षक ही शिक्षा और हर किसी वस्तु का मूल्य, नैतिकता सिखाते हैं। शिक्षकों की मेहनत और लगन के कारण ही व्यक्ति के मानसिक विकास और एक सुन्दर समाज का निर्माण होता है। मानव अधिकार संरक्षण समिति की नगर अध्यक्षा रेखा नेगी ने बताया कि दुनिया में एक शिक्षक या अध्यापक बनने से बड़ा और महान कार्य और कुछ नहीं। यह विश्व का सबसे महान पेशा या व्यवसाय भी है। इन्हीं महान शिक्षकों को सम्मान देने के लिए प्रतिवर्ष 5 सितम्बर को पुरे भारत में शिक्षक दिवस के रूप में मनाया जाता है। हमें अपने जीवन में शिक्षकों के मूल्यों को समझना और महसूस करना चाहिए और दिल से सम्मान के साथ शिक्षक दिवस प्रतिवर्ष मानना चाहिए। शिक्षक हमारे माता-पिता से भी बढ़ कर हैं जो हमें हमेशा सफलता की राह दिखाते हैं। वे तभी खुश होंगे और स्वयं को सफल मानेंगे जब उनके छात्र आगे बढ़ेंगे और सफलता प्राप्त करके उनका नाम पुरे विश्व भर में फैला देंगे। हमें अपने शिक्षकों से मिले सभी अच्छे सुविचारों का पालन करना चाहिए यही उनके लिए सबसे सम्मान की बात है।