ALL crime social current political sports other
गैस लीकेज को लेकर भाजपा पार्षद पति व समाजसेवी के बीच हाथापाई,गाली गलौज
July 24, 2020 • BABLI JHA • crime

हरिद्वार। चंद्राचार्य चैक पर गैस लाईन में लीकेज को लेकर भाजपा नेता व पार्षद पति सचिन बेनीवाल व समाजसेवी पंडित अधीर कौशिक के बीच हाथापाई व जमकर गालीगलौच हुई। पार्षद पति सचिन बेनीवाल ने पंडित अधीर कौशिक पर चप्पल तक तान दी। इसका पंडित अधीर कौशिक ने विरोध किया तो दोनों में हाथापाई हो गयी। घटना का वीडियो वायरल हो गया है। प्राप्त जानकारी के अनुसार चंद्राचार्य चैक पर भूमिगत गैस लाईन में लीकेज की सूचना मिलने पर डा.विशाल गर्ग मौके पर पहुंचे। गैस की गंध फैलने के चलते आसपास के कई व्यापारी भी वहा एकत्र हो गए। इसी दौरान पार्षद पति सचिन बेनीवाल भी अपने समर्थकों के साथ पहुंच गए। वहां से गुजर रहे समाजसेवी पंडित अधीर कौशिक भी भीड़ देखकर चैक पर रूक गए और गैस लाईन में लीकेज को गंभीर मामला बताते हुए भ्रष्टाचार का आरोप लगाते हुए टिप्पणी कर दी। इस पर सचिन बेनीेवाल भड़क गए और गाली गलौच और हाथीपाई पर उतर आए। इस पर दोनों के बीच जमकर बहसबाजी और हाथापाई होने लगी। समाजसेवी डा.विशाल गर्ग व वहां मौजूद अन्य व्यापारियों ने दोनों के बीच बचाव किया। पंडित अधीर कौशिक ने बताया कि गैस लाईन में लीकेज जनता की सुरक्षा से जुड़ा मुद्दा है। गैस लाईन में लीकेज की लगातार दूसरी घटना सामने आयी है। जिससे कभी भी कोई हादसा हो सकता है। उन्होंने व्यवस्थाओं पर सवाल उठाया तो उनकी आवाज दबाने के लिए सत्ता पक्ष से जुड़े पार्षद पति मारपीट पर उतारू हो गए। पंडित अधीर कौशिक ने कहा कि गलत तरीके से हो रहे कार्यों को विरोध करने वालों तथा जनता की समस्याओं को उठाने वालों की आवाज को दबाने का प्रयास किया जा रहा है। जिसे सहन नहीं किया जाएगा। डा.विशाल गर्ग ने कहा कि जानकारी में आया है कि दूरसंचार कंपनी द्वारा तार बिछाए जाने के दौरान गैस पाईप लाईन लीकेज हुई है। प्रशासन व गैस कंपनी को दूरसंचार कंपनी के खिलाफ मुकद्मा दर्ज कराना चाहिए। बेहद ही अनियोजित व लापरवाही तरीके से कार्य कर जनता को खतरे में डाला जा रहा है। पंडित अधीर कौशिक के समर्थन में उतरे समाजसेवी जेपी बड़ोनी ने कहा कि जनता की आवाज को दबाना एक जनप्रतिनिधि को शोभा नहीं देता। इस तरह की हरकत पूरी तरह से अलोकतांत्रिक है। समाजसेवा के क्षेत्र में हमेशा अग्रणी रहने वाले पंडित अधीर कौशिक के समस्या पर बोलने पर उनके साथ गाली गलौच व हाथापाई की गयी। इसे कतई सहन नहीं किया जाएगा।