ALL crime social current political sports other
गुरू शिष्य परम्परा की युगानुकूल अभिव्यक्ति है शिक्षक दिवस-महंत निर्मलदास
September 5, 2020 • BABLI JHA • social

हरिद्वार। आदर्श बाल सदन इंटर कॉलेज बहादरपुर जट में शिक्षक दिवस समारोह धूमधाम के साथ मनाया गया। जिसमें सोशल डिस्टेंसिंग का विशेष ध्यान रखा गया। इस अवसर पर कार्यक्रम के मुख्य अतिथि श्री पंचायती अखाड़ा बड़ा उदासीन फेरूपुर के महन्त निर्मल दास महाराज ने कहा कि शिक्षक ही देश की रीड होता है। जो सच्चे और ईमानदार नागरिक तैयार करते हैं। हमें शिक्षकों का हमेशा सम्मान करना चाहिए और उनके बताए रास्ते पर चलना चाहिए। भारत वर्ष में अनादि काल से गुरु-शिष्य परम्परा रही है, शिक्षक-दिवस उसी प्राचीन परंपरा की युगानुकूल अभिव्यक्ति है। सभी को शिक्षकों का सम्मान करते हुए शिक्षा को ग्रहण करना चाहिए। क्योंकि शिक्षित बच्चे ही देश का भविष्य हैं। कार्यक्रम में सेवानिवृत्त शिक्षकों को सम्मानित किया गया। सम्मानित होने वालों में भोपाल सिंह यादव पूर्व शिक्षक मिथिलेश सनातन धर्म इंटर कॉलेज कनखल, ओंकार शर्मा चेयरमैन कबड्डी एसोसिएशन हरिद्वार, कोच भारत भूषण, ग्राम प्रधान विकास कुमार को मेडल प्रशस्ति पत्र और शाॅल भंेट कर सम्मानित किया गया। और विद्यालय में कक्षा 12 में प्रथम स्थान प्राप्त करने वाले छात्र-छात्राओं को भी मेडल और प्रशस्ति पत्र देकर सम्मानित किया गया। इस अवसर पर विद्यालय के प्रधानाचार्य धर्मेंद्र सिंह चैहान और वरिष्ठ अधिवक्ता अरविंद कुमार श्रीवास्तव ने सभी का स्वागत किया इस दौरान रजनीकांत यादव, जितेंद्र कश्यप, विकास यादव, शाहिद, जितेंद्र चैहान, एडवोकेट सोहन, वीरपाल, रुपेश चैधरी, वीर सिंह, सतीश शास्त्री आदि रहे।