ALL crime social current political sports other
जेईई व एनईईटी परीक्षा कराने का फैसला छात्रों को महामारी के खतरे में धकेलने के समान है
August 28, 2020 • BABLI JHA • political

हरिद्वार। महानगर कांग्रेस कमेटी के तत्वाधान में कार्यकर्ताओं ने केंद्र सरकार द्वारा कोरोना काल में जेईई व एनईईटी परीक्षाएं कराने के फैसले के खिलाफ भगत सिंह चैक पर प्रदर्शन किया। इस दौरान प्रदेश महासचिव डा.संजय पालीवाल ने कहा कि आज विश्व कोरोना महामारी की चपेट में है। भारत में भी महामारी दिन पर दिन बढ़ती जा रही है। ऐसे में भारत सरकार द्वारा जेईई व एनईईटी परीक्षा कराने का फैसला छात्रों को महामारी के खतरे में धकेलने के समान है। महामारी को देखते हुए इन परीक्षाओं को तुरंत निरस्त करना चाहिए। महानगर अध्यक्ष संजय अग्रवाल ने कहा कि केंद्र सरकार जानबूझकर युवा वर्ग को महामारी की ओर धकेल रही है। युवा वर्ग देश का भविष्य हैं। यदि परीक्षा के दौरान छात्र कोरोना की चपेट में आते हैं तो यह बेहद दुर्भाग्यपूर्ण होगा। एचआरडी मंत्रालय अविलंब इस फरमान को रद्द करें। ग्रामीण जिलाध्यक्ष धर्मपाल सिंह ने कहा कि यदि तुरंत यह आदेश वापस नहीं हुए तो कांग्रेस युवाओं को बचाने के लिए लंबी लड़ाई लड़ने के लिए तैयार है। युवा प्रदेश अध्यक्ष सुमित भुल्लर ने भी कहा कि भारत सरकार ने बिना सोचे समझे जो आदेश जारी किए है।ं उस पर एक बार पुनः विचार करें तथा युवाओं का भविष्य बचाने का कार्य करें। महिला कांग्रेस जिलाध्यक्ष विमला पांडे ने कहा कि युवा सुरक्षित हैं तो देश सुरक्षित है। पूर्व राज्यमंत्री मकबूल कुरैशी तथा पूर्व विधायक रामयश सिंह ने कहा कि यदि यह आदेश रद्द नहीं होता तो हाईकमान के आदेशानुसार आंदोलन किया जाएगा। ज्वालापुर नगर अध्यक्ष यशवंत सैनी व ब्लॉक अध्यक्ष शुभम अग्रवाल व रवि कश्यप ने कहा कि युवाओं का स्वास्थ्य बचाने की इस लड़ाई में पीछे नहीं हटेंगे। प्रदर्शन करने वालों में सतीश कुमार, इं.रविबहादुर, बलजीत सिंह, बालेश्वर सिंह, रोहतास सैनी, पूर्व पार्षद अमनगर्ग, अनिल भास्कर, सविता सिंह,रिजवान कुरेशी, सीपी सिंह, अंजू द्विवेदी, कैलाश प्रधान, श्याम सिंह, तहसीन अंसारी, शाहनवाज कुरैशी, जितेंद्र सिंह, दिनेश पुंडीर, यशपाल शर्मा,नीलम शर्मा, शिव कुमार जोशी, संतोष पांडे, हरद्वारी लाल, अमित चंचल, कर्णपाल सिंह, विजय सैनी, बलराज दाबड़े, विक्की कोरी, मनोज जाटव, जगदीप असवाल, पं.नवीन शर्मा, वेद रानी, राजेश चैहान, तरुण मलिक, हरिशंकर प्रसाद, अरविंद चैहान, रोहित मेहरा, राहुल तेश्वर, विजय ठाकुर,राजेंद्र कुमार, योगेश कुमार सहित बड़ी संख्या में कार्यकर्ता शामिल रहे।