ALL crime social current political sports other
कोरोना वायरस का टीका आने तक स्कूल नही खोलने की मांग,मुख्यमंत्री को भेजा ज्ञापन
October 14, 2020 • BABLI JHA • current

हरिद्वार। महानगर व्यापार मंडल के जिलाध्यक्ष सुनील सेठी ने व्यापारियों के प्रतिनधिमण्डल के साथ सिटी मजिस्ट्रेट के माध्यम से मुख्यमंत्री व शिक्षा मंत्री को ज्ञापन प्रेषित कर कोरोना की वैक्सीन आने तक स्कूल नहीं खोले जाने की मांग की है। सुनील सेठी ने कहा कि सरकारें निजी स्कूलों के दवाब में काम कर रही हैं। निजी स्कूलों के दबाव में स्कूल खोलने का फैसला का बच्चों के स्वास्थ्य को खतरे में डाला जा रहा है। सुनील सेठी ने कहा कि निजी स्कूल फीस वसूलने के नए-नए हथकंडे अपना रहे हैं। फीस वसूलने के लिए सरकारों पर दबाव बनाकर 15 अक्टूबर से स्कूल खोलने का फैसला करवा लिया गया है। लेकिन बच्चों की सुरक्षा की जिम्मेदारी लेने को स्कूल तैयार नहीं है। जिन स्कूलों में पहले ही एक क्लास में 50 सीट पर 55 बच्चे पढ़ाये जाते हो वो क्या सोशल डिस्टेंस का पालन करवा पाएंगे। मायापुर व्यापार मंडल अध्यक्ष जितेंद्र चैरसिया एवं जागृति व्यापार मंडल अध्यक्ष नाथीराम सैनी ने कहा कि उत्तराखंड में कोरोना संक्रमण का प्रकोप निरंतर जारी है। ऐसे में स्कूल खोले जाने से बच्चों में संक्रमण फैलने का खतरा स्वभाविक है। उन्होंने कहा कि जब तक कोरोना की वैक्सीन नहीं आ जाती तब तक स्कूलों में ऑनलाइन शिक्षा को ही जारी रखा जाना चाहिए। कहा कि स्कूल खोले जाने से पूर्व शिक्षा विभाग द्वारा स्कूल कॉलेजों का निरीक्षण कर सभी स्कूलों में कोविड-19 की गाइडलाइन का सख्ती से पालन कराया जाना सुनिश्चित किया जाए। ज्ञापन सौंपने वालों में मनोज कुमार आदित्य, पंकज माटा, राजेश सुखीजा आदि शामिल रहे।