ALL crime social current political sports other
कृषि कानून का किसान नहीं, बल्कि कांग्रेस विरोध कर रही है--बंशीधर भगत
October 28, 2020 • BABLI JHA • political

हरिद्वार। भाजपा के प्रदेश अध्यक्ष बंशीधर भगत ने कहा कि कृषि कानून का किसान नहीं, बल्कि कांग्रेस विरोध कर रही है। उन्होंने कहा कि कृषि कानून किसानों को अच्छा मुनाफा और अपनी फसल कहीं भी बेचने का अवसर देगा। आने वाले विधानसभा व लोकसभा चुनाव में कृषि कानून के बल पर ही भाजपा सरकार बनाएगी। कृषि कानूनों का लाभ किसानों को जल्द ही मिलेगा। बुधवार को भाजपा के मध्य हरिद्वार के मंडल प्रशिक्षण वर्ग का शुभारंभ करते हुए प्रदेश अध्यक्ष बंशीधर भगत ने कहा कि केंद्र सरकार ने ही किसानों को पहली बार एक लाख 34 हजार करोड़ का बजट और एक लाख करोड़ का स्पेशल पैकेज दिया। ताकि किसानों की दशा और दिशा दोनों सुधर सके। उन्होंने कहा कि किसानों को किसान सम्मान निधि का लाभ देने वाली केवल भाजपा सरकार ही है। उन्होंने कहा कि भाजपा कार्यकत्र्ताओं को आपसी मनभेद व मतभेद बुलाकर संगठन के लिए कार्य करना होगा। कांग्रेस ने 60 साल तक केवल देश को लूटने का काम किया है, इस भरपाई के लिए संगठन के कार्यकत्र्ताओं को कंधे से कंधा मिलाकर कार्य करना होगा। कांग्रेस नेता राहुल गांधी की तरफ इशारा करते हुए उन्होंने कहा कि जब जम्मू कश्मीर पर निर्णय लिया जा रहा था तब कांग्रेस नेता कहते थे कि यदि ऐसा हुआ तो देश के अंदर खून खराबा हो जाएगा। लेकिन, इस ऐतिहासिक फैसले के बाद देश में सबकुछ सही रहा। उन्होंने कहा कि मोदी के स्वच्छता अभियान से लेकर सभी आंदोलन जनआंदोलन बन गए। इस मौके पर मंडल अध्यक्ष राजकुमार, जिला महामंत्री विकास तिवारी, अन्नू कक्कड़, कुसुम गांधी, लव शर्मा आदि मौजूद रहे। इससे पहले प्रदेश अध्यक्ष ने पत्रकारों से वार्ता करते हुए कहा कि मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत पर भ्रष्टाचार के आरोप सिद्ध नहीं हो सकते। मुख्यमंत्री ने सरकार और अपने जीवन में जीरो टॉलरेंस की नीति को अपनाया है। वे पूरी पारदर्शिता के साथ काम कर रहे हैं। सीएम की ईमानदारी पर शक की कोई गुंजाइश नहीं है। उन्होंने आरोप लगाया कि कुछ लोग राज्य की सरकार को अस्थिर करने के लिए मुख्यमंत्री पर अनर्गल आरोप लगा रहे हैं। उन्होंने कहा कि हम कोर्ट के फैसले का सम्मान करते हैं, पर, सरकार हाइकोर्ट के सीबीआइ जांच के आदेश को चुनौती देगी। कहा कि कर्णप्रयाग रेलवे लाइन का सपना साकार होने जा रहा है। इसी तरह आलवेदर रोड भी प्रदेश के विकास में मील का पत्थर है।