ALL crime social current political sports other
मांगे पूरी नहीं होने पर आंदोलन तेज करेंगे भेलकर्मी-विकास कुमार सिंह
November 11, 2020 • BABLI JHA • current

हरिद्वार। भेल प्रबंधन द्वारा 12 नवंबर को आयोजित की जा रही जेसीएम बैठक में पीपी, बोनस एवं पर्क्स डीए कटौती आदि प्रमुख बिंदुओं को एजेंडे में सम्मिलित ना किए जाने के विरोध में भेल की हीप एवं सीएफएफपी की 13 यूनियनों द्वारा मेन गेट पर धरना प्रदर्शन किया गया। धरने में सैकड़ों की संख्या में भेल श्रमिक शामिल हुए। धरने को संबोधित करते हुए हेवी इलेक्ट्रिकल वर्कर्स ट्रेड यूनियन के अध्यक्ष पूर्व विधायक रामयश सिंह ने कहा की भेल प्रबंधन द्वारा 12 नवंबर को होने वाली जेसीएम बैठक में पीपी, बोनस को एजेंडे में शामिल ना करने से प्रबंधन की मजदूर विरोधी सोच उजागर होती है। जिससे साफ है कि प्रबंधन मजदूरों को दिवाली से पूर्व पीपी और बोनस का भुगतान करने के पक्ष में नहीं है। यदि भेल प्रबंधन ने दीवाली से पूर्व पीपी एवं बोनस का भुगतान नहीं किया तो मजदूरों द्वारा किए जाने वाले आंदोलन को झेलने के लिए तैयार रहे। बीएमएस हीप के महामंत्री संदीप कुमार ने कहा कि विगत 7 माह से कर्मचारियों के 50 फीसदी पर्क्स एवं डीए सीज है। इस कटौती को तत्काल बंद करते हुए एक दिसंबर 2020 से एरियर सहित भुगतान होना चाहिए। हेमू के अध्यक्ष करण सिंह नायक ने कहा की जिन कर्मचारियों की कोरोना महामारी से मृत्यु हुई है। उनके आश्रितों को तत्काल स्थाई नौकरी व 50 लाख की आर्थिक सहायता शीघ्र उपलब्ध कराई जाए। भेल कर्मचारी परिषद के अध्यक्ष नरेंद्र सिंह चैहान ने कहा कि भेल के सेवारत कर्मचारियों की मृत्यु होने पर उनके आश्रित परिवारों को कर्मचारियों की सेवानिवृत्ति तिथि तक सामान्य लाइसेंस फीस पर आवास आवंटन कराया जाए। ऐबू हीप के महामंत्री गगन वर्मा ने कहा कि भेल कर्मचारियों के लिए तत्काल एक करोड़ रुपए टर्म इंश्योरेंस की स्कीम लागू की जाए। एचईडब्ल्यूटीयू के महामंत्री विकास सिंह ने कहा कि दीपावली से पूर्व बोनस व कर्मचारियों के अन्य देयों का भुगतान तत्काल किया जाए। उन्होंने कहा कि कर्मचारियों की मांगों को बैठक के एजेंडे में शामिल नही कर भेल प्रबंधन कर्मचारियों के साथ अन्याय कर रहा है। जिसे स्वीकार नहीं किया जाएगा। कर्मचारियों की मांगे पूरी नहीं की गयी तो बड़े स्तर पर आंदोलन किया जाएगा। धरना प्रदर्शन में बीएमएस हीप के महामंत्री संदीप कुमार, हेमू के महामंत्री मोहित शर्मा, बीकेपी के महामंत्री अमित कुमार, बीएमएस  सीएफएफपी  महामंत्री  पवन कुमार, ऐबू सीएफएफ पी के महामंत्री किरपाल सिंह,  बीएसयू हीप के महामंत्री अरविंद कुमार, एसयू हीप के महामंत्री आशीष सैनी, ऐबू हीप के महामंत्री गगन वर्मा,  बीकेके एमएस हीप के महामंत्री प्रीतम सिंह सौदाई, एस यूसीएफएफपी के महामंत्री अमित गोगना,  सीएफएफडब्ल्यूयूसीएफएफ के महामंत्री जयशंकर एफएफएमएससीएएफएफपी के महामंत्री रविंद्र कुमार, रवि कश्यप, अरुण गुप्ता, सुभाष पुरोहित, करण सिंह नायक, रामकुमार, महेंद्र बिष्ट, परितोष कुमार, हरबंस, फूल सिंह, मेहर सिंह, कुमुद श्रीवास्तव, अब्बास, विकास परेडा, आदेश कुमार सहित सैकड़ों भेल कर्मचारी शामिल रहे।