ALL crime social current political sports other
निर्माण कार्यो में सम्बंधित विभाग नियमानुसार गुणवत्ता युक्त कार्य करें-सतपाल महाराज
August 14, 2020 • BABLI JHA • current

हरिद्वार। प्रदेश के पयर्टन सिंचाई, लघु सिंचाई, संस्कृति, जलागम प्रबंधन, बाढ़ नियंत्रण मंत्री सह जनपद प्रभारी मंत्री सतपाल महाराज ने शुक्रवार को आपदा एवं बाढ़ नियंत्रण को लेकर एक बैठक प्रेमनगर आश्रम की। प्रभारी मंत्री नेे जनपद में आपदा की तैयारी और मानसून में शहर में जलभराव की स्थिति को लेकर जिला प्रशासन और विभागों की ओर से किये गये उपायों के बारे में पूछा। जिलाधिकारी सी0 रविश्ंाकर ने बताया कि शहर मे चल रहे विकास निर्माण कार्यो से जलभराव की समस्या ज्यादा है, लेकिन जल भराव वाले स्थानों को चिन्हित कर वहां अस्थायी विकल्पों से तत्काल जल निकासी कर लिया जाता है। ऐसे स्थानों पर पम्प लगाकर पानी की निकासी की व्यवस्था की गयी है। दीर्घावधि में स्थायी समाधान के लिए ड्रेनेज सिस्टम प्रोजेक्ट पर कार्य किये जाने की आवश्यकता है। बाढ़ की दृष्टि सेे चिन्हित संवेदनशील क्षेत्रों में 12 बाढ़ चैकियां बनायी गयी है जो 24 घंटे सक्रिय रहती है। आपदा की स्थिति में संचार सदृढिकरण के तहत 6 सेटेलाइट वायरलेस चैकी की व्यवस्था की गयी है। खोज बचाव के लिए 200 प्रशिक्षित आपदा मित्रों सुरक्षा उपकरणों सहित तैयार किया गया है। छ संवेदनशीन क्षेत्रों में सायरन सिस्टम लगाये गये हैं जिनको बढ़ाया जायेगा। ये सायरन लोगों को आगाह करेंगे कि खतरा है और प्रशासन द्वारा चिन्हित शेल्टर की तरफ लोगो को जाना है। प्रभारी मंत्री ने कोविड 19 चिकित्सालयों में विशेष साफ-सफाई, एवं उचित खान पान व्यवस्था बनाने, बरसात के दौरान नालों की सफाई/पाइप लाइनों से घास कूड़ा हटाने की व्यवस्था करने के निर्देश दिये, जिससे जलभराव की समस्या न रहे। उन्होंने विद्युत तारों के भूमिगत किये जाने के कार्य में गुणवत्ता और सुरक्षा मानकों की अनदेखी की रिर्पोट मिलने की बात कही। उन्होंने कहा कि सम्बंधित विभाग नियमानुसार गुणवत्ता युक्त कार्य करें। कार्य में लापरवाही पर कार्रवाई की जायेगी। उन्होने वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक से जनपद में बढ़ते स्मैक नशे से युवाओं को बचाने के लिए अभियान चलाकर कार्य करने को कहा। स्मैक बिक्री को रोकने के लिए छापेमारी के निर्देश दिये। बैठक में रानीपुर विधायक आदेश चैहान, भाजपा जिलाध्यक्ष जयपाल सिंह चैहान, मुख्य विकास अधिकारी विनीत तोमर, अपर जिलाधिकारी  केके मिश्र, अपर मेला अधिकारी कुम्भ ललित नारायण मिश्र, ज्वाइंट मजिस्ट्रेट सहित सभी एसडीएम, सिंचाई और आपदा प्राधिकरण विभागों के अधिकारी उपस्थित रहे।