ALL crime social current political sports other
पीएम मोदी ने हरिद्वार व उत्तराखण्ड को दी करोड़ों की सौगात
September 29, 2020 • BABLI JHA • current

गंगा हमारी सांस्कृतिक वैभव,विरासत जीवन को समृद्व करती है-नरेन्द्र मादी

हरिद्वार। प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने मंगलवार को करोड़ों रूपये की विभिन्न योजनाओं का लोकापर्ण करते हुए उत्तराखण्ड को सौंगात दी। लोकापर्ण के बाद वर्चुअल माध्यम से अपने सम्बोधन में प्रधानमंत्री ने कहा कि गंगा हमारी सांस्कृतिक वैभव, विरासत तथा जीवन को समृद्ध करती है। इसकी निर्मलता तथा अविरलता आवश्यक है। उन्होंने कहा कि हमने नमामि गंगे मिशन को गंगा सफाई तक सीमित नहीं रखा है। उन्होंने कहा कि हमने सीवरेज प्लांट इस तरह बनाये हैं कि वे आगे के 10 साल की जरूरतों को पूरा करेंगे। हजारों गांवों को खुले में शौच से मुक्ति मिलने के साथ ही नदियां प्रदूषण मुक्त होंगी। जल जीवन मिशन का उल्लेख करते हुये प्रधानमंत्री ने कहा कि यह भारत के हर घर तक पाइप से जल पहुंचाने का प्रयास है तथा मिशन लोगो इसकी प्रेरणा देता है। गंगा का उल्लेख करते हुये पीएम मोदी ने कहा कि 30 हजार से अधिक परियोजनाओं का काम चल रहा है या पूरे हो चुके हैं। उन्होंने कहा कि उत्तराखण्ड में इस अभियान के तहत चल रहे प्रोजेक्टों से छह साल में सीवरेज क्षमता करीब चार गुना बढ़ गयी है। उन्होंने कहा कि 130 से ज्यादा ज्यादा नाले गंगा में गिरते थे, आज अधिकतर को रोक दिया गया है। पहले दर्शन, राफ्टिंग वालों को काफी परेशानी होती थी। उन्होंने कहा कि हरिद्वार में ही 20 से ज्यादा नालों को बन्द किया जा चुका है। उन्होेंने कहा कि हरिद्वार कुम्भ के दौरान श्रद्धालुओं को निर्मल गंगा का अनुभव होगा तथा सैंकड़ों घाटों का सौन्दर्यीकरण किया जा रहा है। उन्होंने कहा कि नमामि गंगे अभियान से जैविक खेती व आयुर्वेदिक खेती को भी बढ़ावा मिल रहा है। प्रधानमंत्री ने कहा कि पहले पैसा पानी की तरह बहाया जाता था, पर नतीजा उसके अनुरूप नहीं आता था। उन्होंने कहा कि सही मार्गदर्शन व दिशा-निर्देश देकर हमारी सरकार ने पाई-पाई को सही जगह पर लगाना सुनिश्चित किया है। उन्होंने कहा कि पानी के इंतजाम में हमारी माताओं एवं बहनों को काफी कष्ट उठाना पड़ता है। जल शक्ति मंत्रालय माताओं एवं बहनों के इस कष्ट को दूर करने के लिये हर घर तक जल पहुंचाने के मिशन में जुटा है। उन्होंने कहा कि हर दिन एक लाख परिवारों को शुद्ध जल से जोड़ा गया है। उत्तराखण्ड का जिक्र करते हुये उन्होंने कहा कि सिर्फ एक रूपये में पानी का कनेक्शन देने का बीड़ा उत्तराखण्ड सरकार ने उठाया है। यह गरीब के घर तक पानी पहुंचाने का मिशन है तथा सरकार के काम करने में जो बदलाव आया है, यह उसका उदाहरण है। उन्होंने कहा कि पहले फैसले राजधानी में होते थे, लेकिन अब फैसले गांवों में लिये जाते हैं। उन्होंने कहा कि 2 अक्टूबर से 100 दिन का एक विशेष अभियान चलाया जायेगा, जिसमें हर स्कूल व हर आंगनबाड़ी को नल से जल से जोड़ा जायेगा। किसानों का जिक्र करते हुये उन्होंने कहा कि हमने किसानों को समस्त बन्धनों से मुक्त किया है, वह अपनी उपज को कहीं भी बेच सकता है। उन्होंने कहा कि एमएसपी भी रहेगी व किसान को अपनी फसल को कहीं भी बेचने की आजादी भी रहेगी। प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने ’पीएम रोइंग डाउन द गंगा’’ पुस्तक विमोचन तथा लघु फिल्म- जल जीवन का अनावरण भी किया। प्रधानमंत्री के विभिन्न नमामि गंगे परियोजनाओं के वर्चुअल लोकार्पण से पूर्व केन्द्रीय जलशाक्ति मंत्री गजेन्द्र सिंह शेखावत ने प्रधानमंत्री तथा वीडियो कांफ्रें्रसिंग से जुड़े सभी का स्वागत किया। इस अवसर पर उन्होंने कहा कि गंगा हमारी सांस्कृतिक विरासत है तथा हमारे आर्थिक जीवन का आधार है। प्रधानमंत्री के मार्गदर्शन में गंगा के पानी में शुचिता का प्रभाव दिखा है तथा इसे जन-जन तक जोड़ा गया है। उन्होंने कहा कि उद्गम से लेकर आखिरी छोर तक गंगा का पानी आचमन योग्य होगा। निश्चित रूप से अब परिणाम दिखाई देने लगे हैं। उन्होंने कहा कि नमामि गंगे के तहत गंगा के किनारे बसे जितने भी शहर या गांव हैं, उनका गन्दा पानी गंगा में जाने से रोका जायेगा। उत्तराखण्ड के मुख्यमंत्री त्रिवेन्द्र सिंह रावत ने प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी का उत्तराखण्ड के लिये दी गयी इन सौगातों के लिये आभार प्रकट किया तथा वीडियो कांफ्रेंसिंग से जुड़े सभी का स्वागत किया। उन्होंने कहा कि गंगा आदिकाल से ही प्राकृतिक सम्पदा ही नहीं है, बल्कि जन-जन की भावनाओं से जुड़ी है। जनसंख्या वृद्धि तथा अन्य कारणों से गंगा की शुद्धता प्रभावित हुई है। प्रधानमंत्री के कुशल मार्गदर्शन एवं सम्पूर्ण प्रयास की वजह से आज गंगा इतनी शुद्ध हुई है कि उसमें डालफिन आदि भी दिखाई देने लगे हैं। मुख्यमंत्री ने कहा कि चण्डीघाट सहित गंगा के किनारे 21 स्नानघाटों का निर्माण किया गया है। सीएम रावत ने कहा कि मार्च में महाकुम्भ का आयोजन होना है। हमारा पूरा प्रयास है कि श्रद्धालु निर्मल गंगा में स्नान करके जायें। इस अवसर पर जगजीतपुर, एसटीपी में प्रदीप झा अध्यक्ष गंगा सभा, तन्मय वशिष्ठ महामंत्री गंगा सभा, ओम प्रकाश जमदग्नि सांसद प्रतिनिधि, आदेश चैहान विधायक रानीपुर, सुरेश राठौर विधायक, ज्वालापुर, अनीता शर्मा मेयर, सी.रविशंकर जिलाधिकारी, विनीत तोमर सीडीओ, जय भारत सिंह मुख्य नगर अधिकारी, जगदीश लाल सिटी मैजिस्ट्रेट, सीजीएम जल संस्थान आरके जैन, परियोजना प्रबन्धक, निर्माण एवं अनुरक्षण इकाई गंगा, अजय कुमार, अधिशासी अभियन्ता, जल संस्थान, हरिद्वार(सीवरिंग) आदि उपस्थित रहे।