ALL crime social current political sports other
प्लाट दिलाने के नाम पर धोखाधड़ी करने वाला आरोपी गिरक्रतार
October 7, 2020 • BABLI JHA • crime

हरिद्वार। कोतवाली ज्वालापुर पुलिस ने प्लाट दिलाने के नाम पर 7.50 लाख रुपये की धोखाधड़ी करने वाले आरोपी को गिरफ्तार कर लिया है। पुलिस के अनुसार आरोपित पर आरोप है कि रुपये लेने के बाद आरोपी ने रजिस्ट्री नहीं की, वहीं पैसे वापस मांगने पर पीड़ित को जान से मारने की धमकी दी। कोतवाली ज्वालापुर पुलिस के मुताबिक 4 मार्च को हाईडिल कालोनी लालजीवाला हरिद्वार निवासी सागर कश्यप पुत्र विमल कश्यप ने शिकायत देकर बताया कि उसकी मुलाकात विनोद कुमार पुत्र वेदपाल निवासी सुभाषनगर ज्वालापुर से थी। वर्ष 2018 में विनोद ने उन्हें सुभाषनगर में एक प्लाट दिखाया और दावा किया कि प्लाट उसके नाम है और वो बेच रहा है,खरीददार के साथ प्लाट का सौदा तय हो गया। कुल 7.50 लाख रुपये दिए गए। लेकिन आरोप है कि विनोद ने प्लाट की रजिस्ट्री नहीं की। खरीददार  सागर जब भी रजिस्ट्री के लिए कहता तो विनोद टालमटोल कर देता। आरोप है कि 28 मार्च वर्ष 2019 को तहसील ज्वालापुर में सागर और विनोद का आमना-सामना हो गया। उस वक्त विनोद ने कुछ समय बाद रजिस्ट्री करने का आश्वासन दिया। आरोप है कि मार्च वर्ष 2020 तक विनोद ने रजिस्ट्री नहीं की। जिस पर सागर ने पुलिस में मुकदमा दर्ज कराया। जांच करते हुए बुधवार को पुलिस ने आरोपी विनोद कुमार को पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया। कोतवाली प्रभारी प्रवीण सिंह कोश्यारी ने बताया कि आरोपी को जेल भेजा जा रहा है।