ALL crime social current political sports other
सरकार कर रही पंजाबी समाज की उपेक्षा,नही की जायेगी बर्दाश्त
September 17, 2020 • BABLI JHA • social

हरिद्वार। श्यामनगर काॅलोनी मंे आवश्यक बैठक चरणजीत पाहवा के संयोजन में आयोजित की गई। बैठक में मुख्य रूप से सरकार में पंजाबी समाज के प्रतिनिधित्व को लेकर चर्चा की गई। बैठक को सम्बोधित करते हुए चरणजीत पाहवा ने कहा कि सरकार पंजाबी समाज की उपेक्षा कर रही है। सम्मानित नागरिकों को सरकार में उचित सम्मान नहीं मिल पा रहा है। पंजाबी समाज के हितों का संरक्षण संवर्द्धन करने वाले लोगों की उपेक्षा सरकार द्वारा की जानी गलत है। उन्होंने आरोप लगाते हुए कहा कि भाजपा सरकार पंजाबी समाज का मात्र वोट अर्जित करने की नियत से राजनैतिक इस्तेमाल कर रही है। पंजाबी समाज को संगठित होकर अपने समाज के लोगों के सम्मान की लड़ाई को लड़ना है। चरणजीत पाहवा ने कहा कि हरिद्वार सीट पर 25-30 हजार वोट व रानीपुर विधान सीट पर 15-20 हजार वोट हैं पंजाबी समाज हमेशा ही भाजपा को अपना समर्थन व वोट देता चला आ रहा है। 90 प्रतिशत पंजाबी भाजपा से ही जुड़े हुए हैं। लेकिन सरकार द्वारा मंत्री विधायक तो पंजाबी समाज के बना दिये जाते हैं लेकिन वह मात्र राजनीति का शिकार होते हैं। पंजाबी समाज के हितों का संरक्षण करने में इन मंत्रियों और विधायकों का कोई योगदान नहीं है। मात्र चुनाव में इस्तेमाल होने वाले मंत्री विधायकों को पहचानने की आवश्यकता है। चरणजीत पाहवा ने कहा कि सरकार में पंजाबी समाज के प्रतिनिधित्व करने वाले लोगांे को उचित सम्मान भाजपा पार्टी में मिलना चाहिए। पाहवा ने चेतावनी देते हुए कहा कि 2022 के चुनाव में वरना पंजाबी समाज अपना जबाव भाजपा को देगा। बैठक में अनिल शर्मा, संजय शर्मा, हंसराज, खैराती लाल, बिन्नी मिगलानी, मोहित, हरिओम, दिनेश तनेजा, सुनीता, रीना, आंचल, पवन पाहवा, सचिन अरोड़ा, कमल शर्मा, अजय पाहवा, गौरव सोनू चावला, गोविन्द राम, आदि उपस्थित रहे।