ALL crime social current political sports other
शराब तस्कारों को चिह्नित कर कार्रवाई की जाये -एसएसपी
August 19, 2020 • BABLI JHA • crime

हरिद्वार। कोरोना काल में पहली बार जनपद में अपराध समीक्षा बैठक ऑनलाइन की गई। बुधवार को एसएसपी ने गूगल मीट के माध्यम से ऑनलाइन समीक्षा की और लंबित विवेचनाओं पर चार्जशीट न लगाने पर कई अधिनस्थों को फटकार भी लगाई। इस दौरान एसएसपी ने सीओ को निर्देश दिए गया कि सर्किलवार विवेचनाओं की समीक्षा करें। कोविड19 के चलते जारी अनलाॅक तीन के बीच बुधवार को पुलिस कार्यालय से एसएसपी सैन्थिल अबुदई कृष्ण एसराज ने जनपद के सभी थाने, कोतवालों, सीओ के साथ बैठक की। ऑनलाइन बैठक में एसपी सिटी और एसपी देहात भी जुड़े। इस दौरान एसएसपी ने अपराध की सर्किलवार समीक्षा की। एसएसपी सेंथिल अवूदई कृष्णराज एस ने कहा कि सीओ अपने-अपने सर्किलों में समय-समय पर थानावार लंबित विवेचनाओं की समीक्षा करें। कोई भी घटना घटित होती है तो सीओ घटनास्थल पर पहुंचकर मौका मुआयना जरूर करें। पुराने अपराधियों पर नजर रखी जाए। एसएसपी ने कहा कि शराब तस्कारों को चिह्नित कर कार्रवाई की जाये। कहा कि क्षेत्र में अवैध शराब, खनन, नशा, जुआ जैसी गतिविधियां किसी भी दशा में न होने दें। ऐसे व्यक्तियों को चिह्नित करते उनके विरुद्ध गुंडा ऐक्ट, गैंगस्टर जैसी कार्रवाई करें। ऑनलाइन बैठक में एसपी क्राइम आयुष अग्रवाल, एसपी सिटी कमलेश उपाध्याय, एसपी देहात स्वप्न किशोर सिंह, सीओ मंगलौर अभय प्रताप सिंह, सीओ सिटी डॉ. पूर्णिमा गर्ग समेत कोतवाली और थाने के प्रभारी जुड़े। सिग्नल वीक कई बार कोतवाली और थाना प्रभारी की ऑनलाइन मीटिंग बीच में ही कट गई। कई जगह सिग्नल वीक होने के कारण दिक्कतें आई। कई जगह लाइट जाने के बाद कंप्यूटर में न जुड़कर कोतवाली प्रभारी मोबाइल के माध्यम से क्राइम बैठक में जुड़े। करीब दो घंटे से अधिक बैठक चली। एक एसओ और एक कोतवाल को फटकार एसएसपी पूरे क्राइम बैठक में एक कोतवाली प्रभारी और एक एसओ पर खासे नाराज नजर आये। एसएसपी ने दोनों प्रभारियों को ठीक से डांट लगाई। सुस्त रवैये के चलते उनको डांट खानी पड़ी। एसएसपी के कई सवालों का दोनों प्रभारी जवाब नहीं दे पाये।